Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

दृढ़ कुट्टिम

अनुसंधान एवं विकास और परामर्श/मूल गतिविधियों के क्षेत्र

अनुसंधान एवं विकास के क्षेत्र

1. कंक्रीट सड़क का डिजाइन, निर्माण, मूल्यांकन और रखरखाव।
2. कंक्रीट प्रौद्योगिकी में नवप्रवर्तन।
3. कंक्रीट सड़क निर्माण में औद्योगिक कचरे एवं उप-उत्पादों का उपयोग।
4. कंक्रीट के लिए नवीन बंधको का विकास।
5. सतत विकास के लिए कंक्रीट।
6.  कंक्रीट की सड़को के लिए उपकरण।
7. संकटों ग्रस्त/ विफलत एवं उपचारात्मक उपायों के कारणों की जांच।

परामर्श / मूल गतिविधिया

1. कंक्रीट की सड़को का डिजाइन, निर्माण, मूल्यांकन एवं रखरखाव।
2. कंक्रीट की सड़को का निष्पादन, मूल्यांकन एवं संकट ग्रस्त / विफलताओ की पड़ताल।
3. कंक्रीट की सड़को का सुदृढ़ीकरण / पुनः स्थापन।
4. कंक्रीट सड़को के निर्माण कार्य के लिए गुणवत्ता का नियंत्रण, गुणवत्ता के आश्वासन एवं गुणवत्ता के लेखा परीक्षा।
5. सड़क सड़कों के निर्माण में औद्योगिक कचरे और उप-उत्पादों का उपयोग।
6. फ्लाई ऐश, फाइबर, सिलिका धूल और सुपर प्लास्टिसाइज़र आदि का उपयोग करके कंक्रीट मिश्रण का डिजाइन
7. कंक्रीट की सड़को का मूल्यांकन, पुनः स्थापन एवं मरम्मत।
8. कंक्रीट सड़को की गुणवत्ता नियंत्रण के पक्ष।
9. सड़क निर्माण सामग्री का परीक्षण, मूल्यांकन और विशेषीकरण का विवरण।

अवसंरचना सुविधाएं     

1. सर्वो नियंत्रण हाइड्रोलिक परीक्षण मशीनें    
2. यूनिवर्सल परीक्षण मशीन
3. घर्षण परीक्षण मशीन
4. ब्रिटिश पेंडुलम परीक्षक
5. वॉक-इन-एनवायर्नमेंटल कक्ष
6. कंक्रीट की सड़को पर वास्तविक समय तनाव डेटा को कैप्चर करने के लिए डेटा-लॉगर
7. प्रभाव प्रतिरोध परीक्षण उपकरण
8. संपीड़न परीक्षण मशीन
9. शुष्क संकुचन उपकरण
10. डायमंड कोर कटर
11. पैन मिक्सर
12. कंपन मेज
13. कोर काटने की मशीन
14. सीमेंट, फ्लाईएश, एग्रीगेट्स और कंक्रीट के लिए सामग्री परीक्षण प्रयोगशाला
15. आर्द्रता कक्ष
16. आटोक्लेव (सीमेंट की निर्दोष्ता)
17. स्वचालित कम्पेक्टर

प्रशिक्षण कार्यक्रम

1. कंक्रीट की सड़को का डिजाइन, निर्माण और रखरखाव
2. कंक्रीट की सड़को के डिजाइन, मरम्मत और पुनः स्थापन के सभी अग्रिम पहलुओं में प्रशिक्षण कार्यक्रम

प्रभाग द्वारा विकसित प्रौद्योगिकियां

1. सड़को के लिए रोलर कॉम्पैक्ट कंक्रीट।
2. फुटपाथों के लिए उच्च आयतनी फ्लाई ऐश कंक्रीट।
3. अति पतली व्हाइट टॉपिंग तथा उच्च प्रदर्शन फाइबर कंक्रीट का मौजूदा डामर फुटपाथ के पुनरुत्थान के लिए का उपयोग करते हुए सुदृढीकरण।
4. सीमेंट कंक्रीट में वोलास्टोनाइट (प्राकृतिक खनिज फाइबर) का उपयोग।
5. सिंथेटिक फाइबर प्रबलित कंक्रीट।
6. सीमेंट कंक्रीट में संगमरमर के गारे की धूल का उपयोग।
7. सीमेंट कंक्रीट में धातु मल का उपयोग।
8. मैग्नीशियम ऑक्सी-क्लोराइड सीमेंट के साथ रेत स्थिरीकरण।
9.कंक्रीट की त्वरित मरम्मत के लिए मैग्नीशियम फॉस्फेट सीमेंट का उपयोग।

आईआरसी और बीआईएस मानकों / विनिर्देशों / दिशानिर्देशों में योगदान

1. बीआईएस: 456-2000 मैदान और प्रबलित कंक्रीट - अभ्यास संहिता।
2. आईआरसी: 15-2011 मानक विशिष्टता और कंक्रीट सड़कों के निर्माण के लिए अभ्यास संहिता। (तीसरा संशोधन)
3. आईआरसी: 58-2015 राजमार्गों पर संयुक्त सड़को के डिजाइन के लिए दिशानिर्देश। (दूसरा संशोधन)
4. आईआरसी: एसपी: 49-2014 के लिए उप-आधार में सूखी कंक्रीट के उपयोग के लिए दिशानिर्देश।
5. आईआरसी 62-2004 ग्रामीण सड़कों के लिए सीमेंट कंक्रीट सड़को के डिजाइन और निर्माण के लिए दिशानिर्देश।
6. आईआरसी: एसपी:68-2005 रोलर कॉम्पैक्ट कंक्रीट सड़को के निर्माण के लिए दिशानिर्देश।
7. आईआरसी: एसपी:76-2008 कन्वेंशनल, थिन और अल्ट्रा थिन व्हाइट टॉपिंग के लिए टेंटेटिव गाइडलाइंस।
8. आईआरसी: एसपी: 83-2008 सीमेंट कंक्रीट सड़को के रखरखाव, मरम्मत एवं पुनः स्थापन के लिए दिशानिर्देश।